बिहार समाचार

गांधी मैदान से निकलेंगी मानव शृंखला की टहनियां, 21 को जुड़ेंगे करोड़ों लोग

Get Rs. 40 on Sign up
मद्य निषेध जागरूकता को लेकर 21 जनवरी को निकाली जानेवाली मानव शृंखला का सेंटर प्वाइंट गांधी मैदान होगा. गांधी मैदान से ही मानव शृंखला की टहनियां  निकलेगी, जो राज्य की सीमाओं तक अटूट रूप से जायेगी.
ये बातें सोमवार को अभियान की तैयारियों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल ने कहीं. उन्होंने कहा कि जिले के सभी महत्वपूर्ण सड़कों यथा पुराना बाइपास, बेली रोड में भी मानव शृंखला का निर्माण किया जायेगा.  मानव शृंखला का निर्माण इस  तरह किया जायेगा. ताकि, जिले के एक कोने से दूसरे कोने तक एक कड़ी बन जाये. गांधी  मैदान  में मुख्य कार्यक्रम के तहत मानव शृंखला से बिहार का नक्शा बनाया जायेगा.
डीएम ने बैठक में सभी  प्रखंड विकास  पदाधिकारी, अंचल अधिकारियों को निर्देश  दिया कि वे अपने-अपने क्षेत्रों  में मानव शृंखला निर्माण के लिए माइक्रो प्लान तैयार कर 10 जनवरी तक अनिवार्य रूप से सौंप दें. यह शृंखला सबसे बड़ी होगी और इसमें करोड़ों लोग अपनी भागीदारी करेंगे. जिलाधिकारी  की ओर से इस  कार्यक्रम  को  सफल  बनाने  के  लिए  पर्याप्त  पुलिस  बल  की प्रतिनियुक्ति व रूट लाइनिंग करने का निदेश दिये गये हैं.
कोइलवर से मोकामा तक के मुख्य सड़कों पर मानव शृंखला का निर्माण किया जायेगा. पटना से मसौढ़ी, पटना से हाजीपुर व बख्तियारपुर से बिहारशरीफ तक मद्य निषेध अभियान के संबंध में जन जागरूकता पैदा करने के लिए किया जायेगा मानव शृंखला का निर्माण. एक किलोमीटर में लगभग दो हजार व्यक्ति शृंखला में शामिल रहेंगे. मानव शृंखला में व्यक्ति एक-दूसरे का हाथ पकड़ कर शराबबंदी अभियान का समर्थन करेंगे.
कक्षा पांच तक के बच्चे नहीं होंगे शृंखला में शामिल : जिला स्तर के सभी विभागों के सरकारी व संविदाकर्मी, सरकारी व गैर सरकारी विद्यालय, उच्च  विद्यालय, उच्चतर  विद्यालय, महाविद्यालय के शिक्षक, कर्मी, आशा दीदी, सेविका, सहायिका व छात्र-छात्राएं मानव शृंखला में भाग लेंगे. स्थानीय जन प्रतिनिधियों को भी इसमें जोड़ना है.  प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि स्थानीय स्तर पर पर्यवेक्षी  पदाधिकारी  सहित सभी पर्यवेक्षी पदाधिकारी व कर्मियों के बीच अपने-अपने क्षेत्रों में पड़नेवाले सड़क के अंश को विभाजित करते हुए नोडल पदाधिकारी बनाएं.
एक से तीन बजे तक चिह्नित सड़कें रहेंगी बंद: मद्य निषेद्य को बल देने के लिए 21 जनवरी को बननेवाले सबसे बड़े मानव शृंखला को देख एक से तीन बजे तक चिह्नित सड़कों पर गाड़ियां नहीं चलेगी. इन सड़कों पर  प्रशासनिक गाड़ियां, एंबुलेंस व आपातकालीन सेवाओं को  छोड़ कर वाहनों का परिचालन बंद रहेगा.
जिलाधिकारी की ओर से संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी को आवश्यकतानुसार दंडाधिकारी, पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति के साथ-साथ पेयजल व आवश्यकतानुसार बीच-बीच में एंबुलेंस के साथ चिकित्सकों की भी प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित करेंगें. डीएम ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि अपने देखरेख में सभी संबंधित प्रखंड अंतर्गत सड़कों को छोटे-छोटे सेक्टरों में  विभाजित कर सभी सेक्टरों के लिए  अलग-अलग पदाधिकारी  नामित  करें.  ताकि, कहीं पर भी मानव शृंखला टूटे नहीं.

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close