बिहार समाचार

गूगल की पहली पहल. बिहार में महिलाएं ले रही हैं स्मार्टफोन और इंटरनेट की क्लास

Get Rs. 40 on Sign up

गूगल की पहल पर भोजपुर की ग्रामीण युवतियां व महिलाएं इन दिनों स्मार्टफोन चलाना सीख रही हैं। इंटरनेट का उपयोग कैसे करें, इसकी जानकारी दी जा रही है। सहार में 12 और अगिआंव में 16 ‘इंटरनेट साथी’ पिछले दो माह से इस काम में जुटी हैं। इन इंटरनेट साथियों की संयोजिका हैं सहार के बरहीं गांव निवासी देवंती देवी (34 वर्षीय)।

 

हज मैट्रिक तक की पढ़ाई करने वाली देवंती ने बताया कि हर इंटरनेट साथी को पहले माह में 80 और दूसरे माह में 100 युवतियों व महिलाओं को स्मार्टफोन चलाने के लिए सीखने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। तीसरे माह में 130 को सिखाने का लक्ष्य मिला है। छह माह तक इस प्रोजेक्ट के तहत हर इंटरनेट साथी को 700 युवतियों व महिलाओं मोबाइल चलाना सिखाना है।

350 इंटरनेट साथी के माध्यम से चलेगा अभियान : डिजिटल साक्षरता अभियान के तहत पहले चरण में मैट्रिक पास 350 लड़कियों और महिलाओं को इंटरनेट साथी बनाया गया है। एक इंटरनेट साथी अपने आसपास के चार गांवों की 400 महिलाओं और लड़कियों को डिजिटल साक्षर बनाएंगी। 350 महिलाओं और लड़कियों को मोबाइल और टैबलेट दिया गया है। ये इंटरनेट साथी लड़कियों को रिजल्ट देखने, रोजगार जानकारी लेने, एप्लीकेशन डाउनलोड करने, बैंकिंग सेवाएं व सरकारी योजनाओं की जानकारी देंगी।

यहां चल रहा है अभियान

यह अभियान अभी छपरा, भोजपुर, कटिहार, किशनगंज और अररिया में चल रहा है। शुरुआत एक अगस्त से ही हो चुकी है। इंटरनेट सेवा गूगल दे रही है। वहीं, आर्थिक सहायता टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सर्विसेज दे रहा है। राज्य में इस काम को फिया फाउंडेशन के माध्यम से किया जा रहा है। इसकी स्टेट मैनेजर आरती वर्मा हैं। योजना के तहत राज्य की आठ लाख 40 हजार महिलाओं को डिजिटल साक्षर बनाया जाएगा। छह महीने में अभियान चलाया जाएगा।

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close