बिहार समाचार

पटना नाव हादसे में नया खुलासा, इस वजह से डूबी नाव

Get Rs. 40 on Sign up

पतंगोत्सव के दौरान गंगा में हुए नाव हादसे को लेकर तरह-तरह की बातें सामने आ रही हैं. इसी बीच वायरल हुए वीडियो को ध्यान से देखने वाले कई विशेषज्ञों ने इस पर अपनी राय जाहिर करते हुए इस हादसे के बारे में कुछ खुलासे किये हैं. जानकारी के मुताबिक काले रंग में दिख रही नाव और उसपर सवार लोगों के वीडियो को देखने  पर साफ स्पष्ट हो रहा है कि सबसे पहले नाव के जेनरेटर से काला धुंआ निकलता है. उसके बाद नाव पर सवार दो व्यक्ति पानी में कूद जाते हैं. धीरे-धीरे नाव पानी में समाने लगती है. इस वीडियो में यह भी दिख रहा है कि किस तरह से दोनों नावें सटी हुई हैं. एक व्यक्ति एक नाव से दूसरी नाव पर कूदता भी है. विशेषज्ञों के मुताबिक हादसे की मुख्य वजह ओवरलोडिंग बतायी जा रही है वहीं तकनीकी पहलू की बात करें तो नाव के जेनरेटर का चेंबर फट जाना उसके डूबने की मुख्य कारण बनी है.

क्षमता मात्र 30 लोगों की

बताया जा रहा है कि जो नाव डूबी है, वह तकरीबन 15 साल पुरानी है. इस बात में भी कोई सच्चाई नहीं है कि वहां पर एक ही नाव थी. नाव में लगा जेनरेटर साठ से 70 लोगों का बोझ नहीं उठा पा रहा था. नाव चालक नाव को चलाने के लिये लगातार जेनरेटर पर प्रेशर बढ़ा रहा था, जिसकी वजह से उसका चेंबर फट गया. चेंबर फटते ही नाव की गति रूक गयी और पानी नाव में भरने लगा. क्षमता से अधिक लोगों के सवार होने की वजह से कम पावर का जेनरेटर जवाब दे गया और उसके बाद बड़ा हादसा सामने आया.

घटना के बाद से नाव चालक फरार

प्रशासन नाव चालक को खोज रहा है लेकिन नाव चालक घटना के बाद से फरार है. वहीं जानकारी यह भी मिली है कि सब्जी लेकर इस पार आ रहे नाव चालक ने लोगों को नाव पर सवार होने से मना किया था. लोग जबरदस्ती नाव चालक को डांटकर उस पर सवार हो गये. उसके बाद थोड़ी दूर आगे जाने के बाद यह हादसा हो गया.

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close