बिहार समाचार

बिहार को मिलेंगे विशेष पैकेज के 1.65 लाख करोड़, एक-एक पैसे का होगा सदुपयोग : सुशील मोदी

Get Rs. 40 on Sign up
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से घोषित 1.65 लाख करोड़ रुपये के विशेष पैकेज का एक-एक पैसा बिहार को मिलेगा, जिसका  बिहार के विकास में इस्तेमाल किया जायेगा. उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को भाजपा कोटे के मंत्रियों के अभिनंदन समारोह सह ‘विकास युक्त, भ्रष्टाचार मुक्त बिहार’ के संकल्प सम्मेलन में इसका एलान किया. श्रीकृष्ण  मेमोरियल हॉल में आयोजित सम्मेलन में मोदी ने कहा कि  बिहार के विकास में विशेष पैकेज के 1.65 लाख करोड़ रुपये का सदुपयोग होगा.
जिस क्षेत्र में जितनी राशि दी जा रही है, उसे खर्च कर बिहार को विकसित राज्यों की श्रेणी में खड़ा किया जायेगा. उन्होंने कहा कि पहले केंद्र और राज्य के अलग-अलग इंजन चल रहे थे, लेकिन अब दोनों इंजन एक दूसरे से जुड़ गये हैं और डबल इंजन के सहारे बिहार तेजी से विकास करेगा.  नया बिहार बनाने का संकल्प है और फिर से बिहार को विकास में ऊपर ले जाना है. अक्तूबर, 2019 में तक देश में हर गरीब के घर शौचालय होगा. वहीं इस साल के दिसंबर तक हर गांव में बिजली और अगले एक साल हर घर में बिजली पहुंच जायेगी. हर घर के साथ-साथ हर खेत तक तीन साल में बिजली पहुंचायी जायेगी.
उपमुख्यमंत्री ने बिहार के सभी लोगों को आश्वस्त किया कि एनडीए की सरकार सभी को लेकर चलेगी. प्रधानमंत्री के सपने ‘सबका साथ, सबका विकास’ के आधार पर ही गरीबों, पिछड़ों, दलितों का विकास पहले होगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक साथ आ गये हैं. इससे बिहार के विकास को कोई रोक नहीं सकता है. उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन को बिहार की सभी 40 लोकसभा सीटों को नरेंद्र मोदी की झोली में देकर उन्हें फिर से प्रधानमंत्री बनाने में सहयोग की अपील की.
गांधी के सामने बैठ कर भ्रष्टाचार का नहीं धुल सकता कलंक 
उपमुख्यमंत्री मोदी ने राजद पर निशाना साधा है. कहा कि जदयू-राजद-कांग्रेस का बेमेल गठबंधन था. इसकी स्वाभाविक मौत हो गयी. जो लोग जनादेश की बात कर रहे हैं, वे महात्मा गांधी की मूर्ति के पास बैठेंगे.
क्या वे बतायेंगे कि उन्होंने अकूत संपत्ति अर्जित की है? इसे गलत तरीके से उनके पिता ने खरीदा है? क्या वे अपनी संपत्ति को सरकार को दे देंगे, जिसमें स्कूल खोला जा सके? गांधी जी के सामने बैठ कर भ्रष्टाचार का कलंक नहीं धुल सकता है. आज जो हे राम बोलता है, वहीं जय श्रीराम बोल सकता है. उन्होंने कहा कि राजद 27 अगस्त को भाजपा भगाओ रैली नहीं, बल्कि बेनामी संपत्ति बचाओ रैली है. राज्य की जनता ने जनादेश सुशासन, भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने और अपराध पर नियंत्रण करने के लिए दिया था. जनादेश शहाबुद्दीन या राजबल्लभ यादव को बचाने, तीन एकड़ जमीन पर 700 करोड़ के मॉल बनाने, बालू माफिया को फ्लैट बेचने के लिए तो नहीं मिला था.
उन्होंने कहा कि पूरे मामले की शुरुआत मॉल की मिट्टी से शुरू हुई. मिट्टी से मॉल, उसके मालिक व बेनामी संपत्ति का उजागर हुआ और तीन महीने में सरकार गिर गयी. इसके कागजात भी मिलते गये और कारवां बनता गया. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद ऐसे नेता है, जो नौकरी, विधायक, सांसद बनाने के लिए लोगों से जमीन तक लिखवा ली. लोग बिना काम के क्यों अपनी कीमती जमीन लालू प्रसाद व उनके परिवार को दे दी.
कोई भी भ्रष्ट नहीं बचेगा
मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त चाहे कोई भी हो, वह नहीं बचेगा. ऊपर से नीचे तक के अधिकारी व कर्मचारी बख्शे नहीं जायेंगे. उन्होंने कहा िक आज लोग सेकुलरिज्म के नाम पर अपने भ्रष्टाचार को िछपाते हैं. 1990 में कैलाशपति मिश्र भाजपा का समर्थन पत्र लालू प्रसाद को नहीं देते, तो वह  मुख्यमंत्री नहीं बन पाते. उस समय भाजपा उन्हें सांप्रदायिक पार्टी नहीं दिखी थी.
दिलाया संकल्प 
समारोह में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने पार्टी के सभी मंत्रियों, नेताओं व कार्यकर्ताओं को गंदगी भारत छोड़ो, गरीबी भारत छोड़ो, भ्रष्टाचार भारत छोड़ो, आतंकवाद भारत छोड़ो, जातिवाद भारत छोड़ो व सांप्रदायवाद भारत छोड़ो का संकल्प दिलाया.

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close