देश विदेश

राष्‍ट्रपति चुनाव : देश के 14वें राष्‍ट्रपति बने रामनाथ कोविंद, PM मोदी ने ट्विट की 20 साल पुरानी तसवीर

Get Rs. 40 on Sign up

 

राष्ट्रपति चुनाव के लिए गुरुवार को हो रही मतगणना में एनडीए के प्रत्‍याशी रामनाथ कोविंद ने जीत दर्ज की. वहीं विपक्ष की उम्‍मीदवार मीरा कुमार को हार का सामना करना पड़ा. पहले चरण की मतगणना में संसद और 11 राज्यों के मतों की गणना में राजग के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद को 1389 वोट मिले हैं जिनका मत मूल्य 4,79,585 है, वहीं प्रतिद्वंद्वी संप्रग उम्मीदवार मीरा कुमार को 576 वोट मिले हैं जिनका मूल्य 2,04,594 है. जीत के बाद कोविंद ने कहा, ‘यह मेरे लिए एक भावुक क्षण है. मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि मैं राष्‍ट्रपति बनुंगा.’

उन्‍होंने कहा कि ये जिम्‍मेदारी दिया जाना देश के हर उस व्‍यक्ति के लिए संदेश है जो ईमानदारी के साथ कर्त्तव्‍यों का निर्वहन करते हैं. कोविंद ने कहा कि राष्‍ट्रपति पद पर मेरा चयन भारतीय लोकतंत्र की महानता का प्रतीक है.

रामनाथ कोविंद की जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा नेता अमित शाह, यूपीए की उम्‍मीदवार मीरा कुमार सहित कई राजनेताओं ने बधाई दी. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामनाथ कोविंद के साथ 20 साल पुरानी एक तस्‍वीर भी सोशल मीडिया पर शेयर की है. इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने रामनाथ कोविंद को जीत की बधाई दी है.

20 पुरानी तस्वीर

राष्ट्रपति चुनाव के लिये निर्वाचन अधिकारी अनूप मिश्रा ने जानकारी दी कि चार राज्यों असम, अरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश और बिहार में कोविंद को 60683 मूल्य के वोट मिले जबकि मीरा कुमार को मिले वोटों का मूल्य 22941 है. कोविंद के राष्ट्रपति चुनाव में जीतने की संभावना है क्योंकि निर्वाचक कालेज में भाजपा और उसके सहयोगी दलों को बहुमत प्राप्त है.

राष्ट्रपति चुनाव के परिणाम की औपचारिक घोषणा शाम पांच बजे होने की उम्मीद है. निर्वाचन अधिकारी अनूप मिश्रा ने यहां संवाददाताओं को बताया कि लोकसभा के दोनों सदनों और 11 राज्यों की विधानसभा के 1965 वोटों की गिनती हुई जिनमें से कोविंद को 1389 और मीरा कुमार को 576 वोट मिले हैं. इन चुनावों में निर्वाचन कॉलेज में संसद के दोनों सदस्यों के मत का कुल मूल्य 5,49,408 है तो सभी राज्यों के विधायकों का मत मूल्य 5,49,495 है. इस तरह कुल मतों का मूल्य 10,98,903 है.

गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान गत 17 जुलाई को हुआ था. मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है. एनडीए की ओर से रामनाथ कोविंद को राष्‍ट्रपति पद का उम्‍मीदवार बनाये जाने पर ममता ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी. ममता ने कहा था कि कोविंद कौन हैं मैं उन्‍हें जानती भी नहीं. आडवाणी (लाल कृष्‍ण आडवाणी), जोशी (मुरली मनोहर जोशी) या सुषमा (सुषमा स्‍वराज) होते तो शायद कुछ सोच सकती थी. ममता ने एनडीए के उम्‍मीदवार का कड़े शब्‍दों में विरोध किया था.

कांग्रेस प्रत्‍याशी मीरा कुमार ने कहा, देखते हैं कि अंतरात्मा की आवाज कितनी सुनी जाती है

राष्ट्रपति चुनाव के लिए चल रही मतगणना के बीच कांग्रेस नीत विपक्ष की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार ने कहा कि देखते हैं कि अंतरात्मा की आवाज कितनी सुनी जाती है. मीरा कुमार ने संप्रग की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार बनाये जाने के बाद निर्वाचक कॉलेज के सदस्यों से बार-बार यही अनुरोध किया है कि अंतरात्मा की आवाज और भारत को बांधकर रखने वाली विचारधारा के अनुसार मतदान करें.

उनका कहना है कि वह जिस विचारधारा के लिए लड़ी हैं, उस पर बहुत आस्था रखती हैं. कुमार ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘मैंने सदस्यों से अंतरात्मा की आवाज सुनने की अपील की थी. देखते हैं कि कितनी सुनी जाती है. राष्ट्रपति चुनाव के लिए आज मतगणना जारी है और अभी तक आये परिणाम सत्तारुढ राजग के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में हैं. मतदान में दलीय प्रतिबद्धता से अलग हटकर मतदान (क्रास-वोटिंग) होने की संभावनाओं के सवाल पर मीरा कुमार ने कहा, ‘मैं इस शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहती और सभी को अपनी आकांक्षाओं के अनुरुप मतदान करने का अधिकार है.’ जब पूछा गया कि परिणाम अनुकूल नहीं आने पर उनकी क्या प्रतिक्रिया होगी तो कुमार ने इसे ‘अवधारणा वाला सवाल’ बताते हुए कहा कि अभी यह नहीं पूछा जाना चाहिए.

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close