बिहार समाचार

वैज्ञानिक आइडिया में बिहार के सरकारी स्कूलों के बच्चे आगे

Get Rs. 40 on Sign up

राज्य के माध्यमिक विद्यालयों में भले ही विज्ञान प्रयोगशाला न हो। शिक्षक की कमी से विज्ञान की पढ़ाई भी नहीं होती हो। फिर भी सरकारी स्कूलों के बच्चे विज्ञान में आगे निकल रहे हैं। राज्य स्तर के इंस्पायर साइंस अवार्ड 2017 में चयनित बच्चे तो यही साबित कर रहे हैं।

बिहार राज्य माध्यमिक शिक्षा परिषद् की ओर से आयोजित इंस्पायर साइंस अवार्ड प्रतियोगिता के लिए राष्ट्रीय स्तर पर 20 बच्चे चयनित हुए हैं। इनमें तीन प्राइवेट और बाकी 17 सरकारी विद्यालयों के विद्यार्थी हैं। इस तरह विज्ञान की नई खोज, वैज्ञानिक आविष्कार के लिए नए आइडिया में इन सरकारी स्कूलों के बच्चों ने प्राइवेट स्कूलों के बच्चों को पीछे छोड़ दिया है। इंस्पायर साइंस अवार्ड की शुरुआत 2009-10 में की गयी थी। इसमें छठी कक्षा से 10वीं तक के विद्यार्थी को शामिल होने का मौका मिलता है।

राष्ट्रीय स्तर का आयोजन दिसंबर में 
बिहार में प्रमंडल स्तर पर 143 बच्चों का चयन राज्य स्तरीय इंस्पायर साइंस अवार्ड के लिए हुआ था। इसमें 20 बच्चों का चयन राष्ट्रीय स्तर के लिए हुआ है। इंस्पायर अवार्ड प्रभारी सुशील कुमार ने बताया कि देश भर से एक लाख आइडिया का चयन प्रखंड स्तर पर किया जाता है। इसके बाद जिला स्तर, राज्य स्तर और फिर राष्ट्रीय स्तर पर देश भर से एक हजार बच्चे चयनित होते हैं। राष्ट्रीय स्तर पर एक हजार में 60 बच्चों का चयन होता है। इन 60 बच्चों को जापान जाने का मौका भारत सरकार की ओर से दिया जाता है। राष्ट्रीय स्तर पर प्रतियोगिता का आयोजन दिसंबर के प्रथम सप्ताह में होना है।

20 में हैं आठ छात्राएं  
राष्ट्रीय स्तर के लिए चयनित 20 विद्यार्थियों में आठ छात्राएं शामिल हैं। इन छात्राओं ने वैज्ञानिक सोच में अपनी जगह बनाई है। ये सभी छात्राएं 10वीं कक्षा की हैं। चयनित बच्चों में ज्यादातर छोटे शहरों जैसे नवादा, शेखपुरा, सुपौल, बांका आदि जिलों से भी हैं। पटना जिले से एक छात्रा का चयन हुआ है।

आठ बाल वैज्ञानिक जा चुके हैं जापान 
राष्ट्रीय स्तर पर चयनित बाल वैज्ञानिकों को जापान एशिया यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम इन साइंस के तहत विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा एक सप्ताह के लिए जापान की यात्रा पर जाने का अवसर प्रदान किया जाता है। इसमें बिहार से अब तक कुल आठ बाल वैज्ञानिक आलोक शर्मा, रोहन गुप्ता, अंकिता कुमारी, कृष्ण राज कुमार, ऋषिकेश कुमार, अभिलाष भारद्वाज, अमित कुमार, राजेश हांसदा को जापान जाने का अवसर प्राप्त हो चुका है।

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Close