बिहार समाचार

Patna : बिहार पुलिस के SUB-INSPECTOR ने किया DNA TEST… बिछड़े नौनिहालों को उनकी मां से मिलाने की बताई अनोखी तरकीब !

Get Rs. 40 on Sign up

​परसों की ही बात है, सूबे के मुखिया नितीश कुमार ने यह कहते हुए बिहार पुलिस की खराब छवि पर अपनी मुहर लगा दी थी और कहा था पुलिस कभी नही सुधरेगी, और इस तरह यह नाकारात्मक मैसेज पुरे देश में गया, लोग पुलिस के बारे में तरह-तरह की मजाकिया बातें करने लगे ! मैं यह नहीं कहता की पुलिस की छवि खराब करने वाले लोग डिपार्टमेंट में भरे पड़े हैं लेकिन इसी पुलिस डिपार्टमेंट में कई ऐसे अधिकारी और सिपाही हैं जो नकारात्मकता के इस माहौल में अपनी सकारात्मक सोच और अपने दायित्वों को पूरी तरह निभाने के लिए भी जाने जाते हैं !

यह एक विज्ञापन है . विज्ञापन पर क्लिक कर हमारा सहयोग करें ताकि हम आपको निरंतर बिहार से जोड़े रखें

मैं फिलहाल बात कर रहा हूँ, बेगयुसराय जिले में पदस्थापि सब-इंस्पेक्टर ‘पवन कुमार’ की जिनकी थानेदारी भी अच्छी और सोच भी सकारात्मकता के सांचों में ढली हुई ! पवन अक्सर देश की, बिहार की, पुलिस और आम आदमी, सबकी समस्याओं पर अपना सकारात्मक विचार सार्वजनिक रूप से सामने रखते हैं और इसी कड़ी में पवन ने बिछड़े हुए नौनिहालों को उनके मां-बाप से मिलाने के लिए एक अनोखा आईडिया सार्वजनिक मंच पर पेश किया है ! अपने फेसबुक वॉल पर ‘DNA TEST’ शीर्षक देकर प्छड़वन ने जो लिखा है उसे हर किसी को पढ़ना चाहिए और ये बात सरकार तक भी जानी चाहिए,जैसा पवन चाहते हैं, पढ़ने के बाद आप-सब भी यही कहेंगे जो पवन कहते हैं, यह मैटर को सरकार तक जाना चाहिए !

DNA TEST
मैं कई थाने में पदस्थापित रहा और इस दौरान कई ब्लाइंड केश सूलझाए ! थाने में रहने के दौरान लोग जब अपने बच्चे के खो जाने का रीपोर्ट ले कर आते थे तो मन विचलित हो जाता था हलांकी उसे ढूँढ़ने का मेरा प्रयास अब तक सफल रहा हैं !

बच्चो को ढूँढ़ने व देखभाल के लिय भारत में न जाने कितनी संस्थाये हैं ,अनाथालय हैं पर दुख के साथ कहना पड़ रहा हैं की खोय बच्चो को उनके माता पिता से मिलाने की गती बहुत ही धिमी हैं !

सबसे बडी बात बच्चे खोने के कुछ दिन कुछ महीने के बाद पुलिस और संस्थाये दोनो का कार्य मंद पड़ जाता हैं और धिरे धिरे बच्चे भी बड़े होते जाते हैं और उनकी सक्ल सुरत भी बदल जाती हैं उसके बाद उन बच्चो को उनके माता पिता से मिलना नामुमकिन सा हो जाता हैं !

लेकिन अगर सरकार मेरी बात मान ले तो लाखो खोय बच्चे आज भी अपने माता पिता को मिल ज़ायेंगे ज़िसके लिय मेरे कुछ सुझाव हैं !

1:-सबसे पहले सरकार एक DNA data bank स्थापित करे

2:- उसके बाद खोय बच्चे के जो भी रीपोर्ट थाने में दर्ज हैं उनके माता पिता का DNA test करा कर पुलिस उसपर upload करे

3:-बच्चो के लिय कार्य कर रही संस्थाये अनाथालय में पल रहे बच्चो का DNA test कराय

4:-भीख मांग रहे बच्चो का DNA test कराय

5:-Remand home में बन्द लवारिस बच्चो का DNA test कराय

6:- Police red light area में छापामारी कर बरामद बच्चीयो का कोर्ट से order लेकर DNA test कराय

7:-अगर कोई अज्ञात मृतक मिले तो 36 hrs रखने के अलावा उसके DNA test करवाना भी अनिवार्य कर दिया जाय !

8:- अगर हो सके तो बच्चे के जन्म लेते समय ही उसका DNA test कर लीया जाय ज़िससे अस्पताल में बच्चे के अदला पर भी अंकुश लग जाए!

उपरोक्त सभी DNA test को data bank में upload कर दे !

मेरा दावा हैं की इन् उपायो को अपनाते ही लाखो माँ को अपने खोय बच्चे जो बर्षो से बिछडे हुए थे ऊनको मिल ज़ायेंगे ……..

:- अगर मेरे विचार सही हैं तो बात सरकार तक ज़ानी चाहिये ताकी यह लागु हो और माँ अपने बिछडे बच्चे से मिल सके इससे बड़ा कोई पुन्य का काम नहीं !

पवन कुमार

Sub inspector

Write your Comments here

comments

Show More
रहें चौबीसो घंटे बिहार और देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट, फेसबुक पेज जरुर लाइक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close